Ajwain के पत्तों के फायदे और नुकसान Hindi में

Ajwain ke fatte ke fayde or nuksan hindi me

अजवाइन (celery) का इस्तेमाल हर घर में मसालों और औषधियों के रूप में किया जाता है लोग इससे घरेलू उपचार भी करते हैं घरेलू नुक्से का प्रयोग करने वाले लोग यह अवश्य जानते होंगे कि अजवाइन हमारे लिए कितने गुणकारी है खासकर पेट की समस्या को दूर करने के लिए अजवाइन का इस्तेमाल किया जाता है

इस के द्वारा हम अपने मोटापे को भी कम कर सकते हैं आज हम आपसे अजवाइन के बारे में बात ना करके अजवाइन की पत्तियों के फायदे और नुकसान के बारे में बात करेंगे अजवाइन के साथ-साथ इसके पत्तों को भी एक गुणकारी औषधि के रूप में माना जाता है जो हमारे सेहत के लिए लाभदायक होते हैं आप चाहे तो इसके पौधे को अपने घर में भी उगा सकते हैं इसके पौधे की पत्तियां मोटी और गद्देदार होती है

Ajwain ke Patte ke fayde

 

Ajwain ke Patte ke fayde

 

इसके पत्तों को पानी में उबालकर इसके पत्तों की चाय बना सकते हैं

तुलसी के पत्तों की तरह इसे चबा भी सकते हैं क्योंकि इसमें Proteins, Fats, Carbohydrates और Fiber भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं

इसके पत्तों का जूस निकालकर भी सेवन कर सकते हैं क्योंकि यह आपकी सेहत के लिए फायदेमंद होता है अब हम बात करते हैं कि यह हमारी सेहत के लिए किस तरह गुणकारी है

डायबिटीज में गुणकारी

डायबिटीज को कंट्रोल में करने के लिए इसके पत्तों को पानी में उबालकर पिए इससे आपको ना केवल डायबिटीज में राहत मिलेगी बल्कि आपको पेट से संबंधित सभी बीमारियों से राहत मिलेगी अपने डायबिटीज स्तर को कम करने के लिए आप रोजाना इसकी पत्तियों को या तो पानी में उबालकर पिए या इसकी पत्तियों को खाली पेट चबाए

मुंह की बदबू करें दूर

यदि आप भी अपने मुंह के बदबू से परेशान है तो आप रोजाना इसकी दो या तीन पत्तियों को चबाएं इससे आपको मुंह की बदबू से जल्दी ही राहत मिलेगी ताजी सास लेने के लिए आप इसका प्रयोग कर सकते हैं क्योंकि यह प्रकृति माउथ फ्रेश करने का काम करती है इसकी पत्तियां आपके मुंह की बदबू को रोकने का काम करती है

पाचन तंत्र बनाए मजबूत

 यदि आपको पेट से संबंधित कोई भी बीमारी है तो आप इसका घरेलू इलाज अजवाइन के द्वारा कर सकते हैं क्योंकि यह हमारा पेट में पाचन तंत्र को मजबूत बनाने का काम करती है और भूख बढ़ाने का काम भी करते हैं यदि आपको पेट से संबंधित कोई भी बीमारी है तो आप अजवाइन की पत्तियों को चबाए और इसके बाद पानी भी पिए इससे आपके पेट दर्द तथा पेट से संबंधित बीमारियां खत्म हो जाएंगे

सीने की जलन में लाभ

कभी-कभी ज्यादा तीखा भोजन करने से हमारे सीने में जलन होने लगती है तो आप इसके लिए अजवाइन के पत्तों का इस्तेमाल करें इसकी पत्तियों को पानी में डालकर उबालें तथा उस उबले हुए पानी का प्रयोग करें इससे आप की जलन कम होगी और अन्य प्रकार के बीमारियों से भी आप को राहत मिलेगी

सर्दी ,जुखाम ओर बुखार करें दूर

 बहुत बार जब हमें सर्दी खासी जुखाम या बुखार हो जाता है तो हमें काढ़ा बनाकर दिया जाता है इस काढे़ मे आप चाहे तो अजवाइन के पत्तियों को भी मिला सकते हैं क्योंकि अजवाइन गर्म होता है जो सर्दी और खांसी में काफी लाभदायक होता है इसकी पत्तियों में लॉन्ग तथा काली मिर्च डालकर इसका काढ़ा बनाएं

एसिडिटी की बीमारी में लाभदायक

 एसिडिटी की परेशानी हो तो अजवाइन के पत्तों का इस्तेमाल आवश्यक है कई बार बाहर का उल्टा सीधा खा लेने के कारण हमें खट्टी डकार पेट के फूलने जैसे कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ता है इसके लिए आप अजवाइन के पत्तों को पीसकर उनका एक पेस्ट बनाएं इसे आप अपने पेट पर लगाएं इससे आपको तुरंत राहत मिलेगी आप चाहे तो केवल अजवाइन को भी पानी में भिगोकर खा सकते हैं

चोट ठीक करने का घरेलू नुक्सा

 चोट लगने पर अजवाइन की सिकाई करें क्योंकि इसकी सिकाई एक रामबाण इलाज है यदि आपको चोट लग गई है तो आप अजवाइन की पत्तियों को गर्म पढ़ाने में उबालें और उनका पानी निकाल कर एक कपड़े में लपेटकर चोट वाली जगह की सिकाई करें इससे आपकी चोट जल्दी ठीक हो जाएगी

Ajwain Ke patte ke nuksan

 

Ajwain Ke patte ke nuksan

 

 वैसे तो हर किसी ने सुना है कि जिस चीज से हमारा जितना फायदा होता है उसी चीज से हमारा उतना नुकसान भी होता है यदि हम उसे उचित मात्रा में प्रयोग नहीं करते इसी तरह जब हम अजवाइन का प्रयोग असीमित मात्रा में करते हैं तो यह हमारा नुकसान भी कर सकते हैं इसीलिए इसे उचित मात्रा मे ही ले

अजवाइन का अधिक सेवन करने से आपके सर दर्द की समस्या और अधिक बढ़ सकती है

 आप इसके काढे़ का अधिक सेवन ना करके इसके रस का सेवन करें यह आपके लिए लाभदायक होता है लेकिन अधिक सेवन ना करें इससे हमारे पेट की समस्या और अधिक बढ़ जाएगी

 आपको हमेशा उसकी ताजी पत्तियों या ताजी अजवाइन का ही प्रयोग करना चाहिए क्योंकि अधिक दिन की हो जाने के बाद इसके मुख्य तत्व नष्ट हो जाते हैं जो हमारे लिए हानिकारक सिद्ध हो सकते हैं

 कई बार इस का ज्यादा सेवन करने से हमें कई उल्टे तथा पेट दर्द और सर दर्द जैसी बीमारियों का सामना करना पड़ता है इसलिए इसका उचित मात्रा में सेवन करना सही होता है

 यदि आप अपना बीमारी से बचने के लिए इसका प्रयोग कर रहे हैं तो एक बार डॉक्टर से परामर्श जरूर ले और समय-समय पर अपना शरीर का चेकअप कराते रहें

 आप चाहे तो अपनी समस्याओं को दूर करने के लिए इसके तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन उचित मात्रा में ही प्रयोग करें

आज आपने क्या पढ़ा

 यदि आप Ajwain ke patto ke fayde or nuksan के बारे में जानना चाहते हैं तो आप हमारी पोस्ट को अवश्य पढ़ें आशा करते हैं कि हमारा यह लेख आप को पसंद आएगा यदि आपको किसी भी टॉपिक के बारे में अधिक जानकारी चाहिए आप कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं हम आपको रोजाना नई नई जानकारियां उपलब्ध कराते रहेंगे

Previous articleबादाम खाने के फायदे और नुकसान Hindi में
Next articleFacebook Page Create or Delete Kaise Karte ha
मेरा नाम कोमल ग्रोवर है, मै नवहिंदी साइट की एक लेखक हूँ यहाँ पर मै स्वास्थ्य, एजुकेशन और आध्यात्मिक केटेगरी के ऊपर लिखती हूँ मुझे हेल्थ सब्जेक्ट और पढ़ाई में बचपन से ही रूचि रही है यदि आपको मेरी पोस्ट पसंद आती है तो आप इन्हे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे मेरी आपसे विनती है कि आप इसी तरीके से हमारा सहयोग देते रहिए ताकि हम आपको नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here