साइंस की तैयारी कैसे करें? हिंदी में

साइंस की तैयारी कैसे करें

दसवीं और बारहवीं में साइंस के एग्जाम की तैयारी कैसे करें जिससे हमारे अच्छे मार्क्स आ सके, वैसे तो हर विद्यार्थी की यही चाहत होती है कि उसके अच्छे मार्क्स लाये और अच्छे अंको से पास हो जाए पर समस्या यही देखने को मिलती है कि आखिरकार तैयारी कैसे करें

विद्यार्थियों की सबसे बड़ी दिक्कत यही होती है कि वह एक ना एक सब्जेक्ट में अपनी रुचि नहीं बना पाते

किसी विद्यार्थी की रुचि इंग्लिश में कम है किसी की मैथ में अच्छी रुचि नहीं होती किसी के साइंस में नहीं होती किसी की हिस्ट्री में नहीं होती आदि

बहुत से विद्यार्थी ऐसे होते हैं जिनकी एक ना एक सब्जेक्ट में रुचि कम होती है आज हम आपको बताएंगे कि साइंस के विषय में रुचि कम होते हुए भी कैसे उसमें अच्छे मार्क्स प्राप्त करें

समय के अनुसार ही पढ़ाई करें

 

समय के अनुसार ही पढ़ाई करें

 

विद्यार्थी को समय के अनुसार ही सिलेबस को समय देना चाहिए शुरुआत में सिलेबस के अनुसार बीच में टॉपिक के अनुसार और एग्जाम के समय पर ध्यानपूर्वक और सोच के अनुसार ही तैयारी करनी चाहिए

ऐसा करने से आप के बोर्ड के एग्जाम में 80% या 90% के आसपास मार्क्स आ जाएंगे

वैसे तो 10वीं और 12वीं बोर्ड एग्जाम की तैयारी करना कोई कठिन कार्य नहीं है सबसे पहले विद्यार्थी को एग्जाम से पहले नोट्स बना लेना चाहिए और नोट्स के साथ-साथ टाइम टेबल भी बना लेना चाहिए

10वीं और 12वीं पास करने के बाद किया करे?

जिससे हम अपने सभी सेलेबस की तैयारी अच्छे से कर सकें और जिस सब्जेक्ट में आपकी रूचि कम है उस सब्जेक्ट को ज्यादा से ज्यादा टाइम दे

एग्जाम की दृष्टि से सिलेबस बहुत महत्वपूर्ण होता है जैसे ही आप की 10वीं या 12वीं की कक्षाएं शुरू होती है आपको तभी से ही तैयारी शुरू कर देनी चाहिए

जिसके जरिए आपको अपने सिलेबस में तैयारी करने के लिए ज्यादा समस्याएं नहीं आएंगे सभी सब्जेक्ट के नोट्स बनाना अनिवार्य है ताकि आपको साथ-साथ यह भी पता चलता रहेगा हमारी कितनी तैयारी हो चुकी है

विद्यार्थी को आमतौर पर विज्ञान की परीक्षा कठिन लगती है क्योंकि इस के तीन अलग-अलग के भाग होते हैं भौतिक रसायन और जीव विज्ञान विद्यार्थी को यही Subject बहुत कठिन लगता है यदि आप विज्ञान में अपने अच्छे अंक लाना चाहते हैं तो

आपको सभी वर्गो पर समान रूप से ध्यान केंद्रित करना होगा दसवीं कक्षा मैं विज्ञान के परीक्षा के लिए कुछ इंपोर्टेंट टिप्स हम आपको बताएंगे

  •  महत्वपूर्ण फार्मूला और नियम के एक अलग से लिस्ट बनाकर तैयार कर ले और समय-समय पर पढ़ते रहना चाहिए
  • प्रतिदिन न्यूमेरिकल केमिकल फॉर्मूला बैलेंस इक्वेशन और महत्वपूर्ण डायग्राम बनाने का भी प्रयास करते रहे
  • पोस्टिक आहार और भरपूर नींद लें एग्जाम से 1 दिन पहले देर रात तक न जागे से इससे आपको परीक्षा में थकान महसूस होगी
  • हमेशा पहले हम उसी चैप्टर को पढ़ ले जो आपको आसान लगता है और साथ ही साथ उन्हें नोट भी कर ले

साइंस के पेपर की तैयारी

 

साइंस के पेपर की तैयारी

 

विषय को समझें

विज्ञान के विषय की तैयारी के लिए पहले उसके कांसेप्ट को समझना बहुत जरूरी है बहुत से विद्यार्थी उन्हें पढ़ने की बजाय या समझने की बजाय उन्हें रटने की कोशिश करते हैं

लेकिन यह तरीका बहुत गलत होता है विज्ञान को समझने के लिए सबसे पहले कांसेप्ट को समझना जरूरी है इसके बाद ही आप विज्ञान में अच्छे मार्क्स प्राप्त कर सकते हैं ऐसे रटने की बजाय समझकर पढ़ने की कोशिश करें

यदि समझ नहीं आ रहा है तो विज्ञान के अध्यापक से उस टॉपिक को समझने की कोशिश करें बाद में खुद समझें और उन्हें पढ़कर लिखने की कोशिश जरूर करें

बीच में ना छोड़े

बहुत से विद्यार्थियों से होते हैं जो अपनी पढ़ाई को बीच में ही छोड़ देते हैं जिस विषय में उनकी रुचि नहीं होती और उस विषय को अधिक समय देते हैं जिनमें भी रुचि रखते हैं लेकिन उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए

बल्कि जिस विषय में उनकी पकड़ बहुत कम है उस विषय को ही अधिक समय देना चाहिए हमें विज्ञान के विषय को रोजाना पढ़ना चाहिए

इसलिए इस विषय को अंत में पढ़ने के लिए ना छोड़े बल्कि सबसे पहले इसे ही पढ़ें लेकिन बहुत से विद्यार्थी ऐसे होते हैं जब परीक्षाएं नजदीक आ जाती है तब उस विषय को बढ़ावा देते हैं और ऐसे में हम अपने सिलेबस में कम मार्क्स हासिल करते हैं

पुराने पेपर पढ़े

विज्ञान के अच्छे से तैयारी के लिए आप विद्यार्थियों से विज्ञान का पिछला पेपर ले सकते हैं और घर बैठकर उन पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करने की कोशिश करें

मार्केट से सैंपल पेपर्स भी ले सकते हैं इससें और भी आसान होगी इससें प्रश्नों के प्रकार और उसके पैटर्न के बारे में भी आपको जानकारी मिल जाएगी कि किस तरह के प्रश्न पेपर में पूछे जाते हैं

रिवीजन करें

जब परीक्षा नजदीक आ जाते हैं तो एक या दो दिन पहले विद्यार्थी उस विषय को पढ़ते हैं लेकिन यह तरीका बिल्कुल गलत होता है

ऐसे में विद्यार्थी अपने अच्छे मार्क्स हासिल नहीं कर पाता जब भी कक्षाएं शुरू होती है तो उन्हें ध्यान से पढ़ना चाहिए घर आकर भी उन्हें रिवीजन करना चाहिए

रिवीजन करने से हमें इससे संबंधित टॉपिक जल्दी ही याद हो जाता है केवल एक बार रिवीजन करने से नहीं बल्कि बार बार रिवीजन करते रहना चाहिए इससे हमारा ज्ञान स्तर बढ़ता रहेगा अपने घर जाओ

टाइम टेबल बनाएं

अगर पढ़ाई के टिप्स की बात करें तो सबसे जरूरी यही है कि सबसे पहले विद्यार्थी अपना टाइम टेबल बनाना है पढ़ाई के लिए आप टाइम टेबल निश्चित कर ले और साइंस के सिलेबस को अच्छी तरह से ध्यान में रखकर उसकी तैयारी करें

वह टॉपिक पहले पढ़े जो आपको आसान लगे उस के लिए सही समय निश्चित करें जिसमें आपकी रुचि बहुत कम है और उसी विषय को ज्यादा से ज्यादा समय दें जिससे आप अच्छे से पढ़ाई कर सकें

पढ़ाई के दौरान कभी भी अपना ध्यान इधर-उधर न भटकने दे इससे हमारा संतुलन बिगड़ जाता है और आप अच्छा मार्क्स नहीं ला पाते

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here